प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपनी मंत्रिपरिषद का विस्तार कर 19 नए चेहरे राज्य मंत्री के रूप में शामिल किए हैं। राष्ट्रपति भवन में आयोजित भव्य समारोह में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने नए मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। बता दें कि अब  कैबिनेट में मोदी समेत 83 सदस्य हैं। कैबिनेट में सबसे युवा मंत्री अनुप्रिया पटेल हैं। अनुप्रिया यूपी से सांसद अपना दल की 35 साल की हैं। मोदी ने 10 राज्यों से नए मंत्रियों को चुना है जबकि मोदी की कैबिनेट में पुराने सहयोगी दलों शिवसेना तथा शिरोमणि अकाली दल को इस विस्तार में जगह नहीं दी गई है जिनके पहले से कुछ मंत्री मंत्रिपरिषद में शामिल हैं।


इन राज्यों से लिए गए मंत्री

राजस्थान से 3 चेहरे
1. अर्जुन राम मेघवाल: कई बार साइकिल से संसद पहुंचने वाले बीकानेर के सांसद मेघवाल को मंत्री बने। वे आईएएस भी रह चुके हैं।
2. सीआर चौधरी: नागौर से सांसद हैं। 
3. पीपी चौधरी: राजस्थान के पाली से सांसद पी.पी. चौधरी ने मंत्री पद की शपथ ली।

यूपी से 3 नेता
1. अनुप्रिया पटेल: एनडीए के सहयोगी दल अपना दल की नेता हैं। अनुप्रिया मिर्जापुर से सांसद हैं। युवा चेहरे के रूप में शामिल की गई हैं।
2. कृष्णा राज: शाहजहांपुर से सांसद हैं।
3. महेंद्रनाथ पांडे: चंदौली से सांसद हैं।

उत्तराखंड से 1 नेता को मिली जगह
अजय टमटा: दलित नेता हैं और अल्मोड़ा से सांसद हैं।

एमपी से 3
1. अनिल माधव दवे: एमपी के नेता हैं। संगठन से जुड़े हैं।
2. फग्गन सिंह कुलस्ते: मंडला से सांसद हैं।
3. एमजे अकबर: राज्यसभा सदस्य हैं। पत्रकार रहे हैं।

महाराष्ट्र से 2
1. सुभाष भामरे :धुले से बीजेपी सांसद हैं। 
2. रामदास अठावले :एनडीए के सहयोगी दल। आरपीआई चीफ हैं।

गुजरात से 3
1. जसवंतसिंह भाभोर: राज्यसभा मेंबर हैं।
2. मनसुख मनदाविया: दाहोद से सांसद हैं। 
3. पुरुषोत्तम रूपाला: मंत्री रह चुके हैं। पुरुषोत्तम पीएम मोदी के करीबी बताए जाते हैं।

असम से 1
राजेश गोहैन :नागांव से बीजेपी सांसद।

कर्नाटक से 1
राजेश जिगजिगानी

बंगाल से 1
एसएस अहलूवालिया: दार्जिलिंग से लोकसभा सांसद हैं।

दिल्ली से 1
विजय गोयल :दिल्ली के नेता हैं। राजस्थान से राज्यसभा सदस्य हैं।

इसलिए शामिल किए गए नए चेहरे
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का का मुख्य फोकस एनर्जी, एक्सपीरियंस और एक्सपरटाइज पर है इसी के आधार पर नए चेहरे इस बार कैबिनेट में शामिल किए गए। वहीं इन मंत्रियों के काम का रिपोर्ट कार्ड भी अच्छा जिस वजह से मोदी ने खास इनको चुना।
मोदी सरकार में इस बार नए मंत्रियों के चयन में शैक्षणिक योग्यता का भी खास ख्याल रखा गया है। नए मंत्रियों की सूची में शुमार महेंद्र नाथ पांडेय बनारस हिंदू विश्वविद्याल से पीएचडी हैं, जबकि सुभाष रामराव सुभाष भामरे कैंसर सर्जरी में सुपर स्पेशलाइजेशन रखते हैं।

युवाओं को मौका
कैबिनेट में सबसे युवा मंत्री अनुप्रिया पटेल हैं। अनुप्रिया यूपी से सांसद अपना दल की 35 साल की हैं। वहीं कैबिनेट में 75 साल तक और उससे ऊपर की आयु के किसी नेता को भी शामिल नहीं किया गया है।

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

hindi e news

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े

विज्ञापन

hindi e news