माफिया मुख्तार अंसारी को दिल्ली की सीबीआई कोर्ट ने 15 दिन का पैरोल दिया है। मुख्तार अब जल्द ही चुनाव प्रचार करे सकेंगे। बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव- 2017 के लिए मुख्तार अंसारी  मऊ सदर विधानसभा सीट से बसपा प्रत्याशी भी हैं। उन पर कुल 13 आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं। जिनमें हत्या, मारपीट, हत्या के प्रयास सहित गैंगस्टर आदि के विभिन्न जिलों के मुकदमे शामिल हैं। फिलहाल मुख्तार अंसारी लखनऊ जेल में बंद हैं। वहीं उनका बड़ा बेटा खुद मऊ जिले की घोसी विधानसभा सीट से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहा है।बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की कौमी एकता दल का बहुजन समाज पार्टी में विलय होने के बाद उनके बेटे और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी अब्बास अंसारी ने कहा कि इस चुनाव में बीजेपी और सपा का पूरी तरह से पूर्वाचल में सफाया हो जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को उनकी रिहाई के आदेश की कापी को तामील करा दिया जाएगा, जिसके बाद उनके पिता मुख्तार अंसारी शनिवार से क्षेत्र में चुनाव प्रचार कर सकेंगे। बता दें, कि सीबीआई कोर्ट में मुख्तार अंसारी को 17 फरवरी से 4 मार्च तक की पैरोल दी है।

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

और भी पढ़ें..

विज्ञापन

hindi e news

फोटो-फीचर

हिंदी ई-न्यूज़ से जुड़े

विज्ञापन

cctv lucknow